नया है वर्ष हर कोई, नया सा लग रहा हर ओर. नाइ हर ओर हरियाली,खिले चेहरे नये चहुँ ओर.. नए पंछी लगें,उनकी सुरीली तान भी नव है.